Saturday, 19 February 2011

राजस्थान का भौतिक पर्यावरण - सामान्य परिचय

राजस्थान राज्य जहाँ एक ओर इसके गौरवशाली इतिहास के लिये पहचाना जाता है, वहीं दूसरी ओर इसका भौतिक स्वरूप भी विशिष्टता लिये हुए है। राज्य के भौतिक पर्यावरण ने यहाँ के ऐतिहासिक, सांस्कृतिक एवं आर्थिक वातावरण को सदैव से प्रभावित किया है और वर्तमान में भी राज्य के विकास में महती भूमिका निभा रहा है।

स्थिति एवं विस्तार
राजस्थान भारत के पश्चिमी भाग में २३ डिग्री ३ उत्तरी अक्षांश से लेकर ३० डिग्री १२ उत्तरी अक्षांश के मध्य तथा ६९ डिग्री ३० पूर्वी देशांतर से ७८ डिग्री १७ पूर्वी देशांतर के मध्य स्थित है।  कर्क रेखा अर्थात् 23 डिग्री अक्षांश राज्य के दक्षिण में बासँ वाड़ा-डूँगरपरु जिलों से गजुरती हैं। राज्य की पश्चिमी सीमा भारत-पाकिस्तान की अन्तर्राश्ट्रीय सीमा है, जो 11,070 किलोमीटर लम्बी है। राज्य की उत्तरी और उत्तरी-पूर्वी सीमा पंजाब तथा हरियाणा से, पूर्वी सीमा उत्तर प्रदेश एवं मध्य प्रदेश से, दक्षिणी-पश्चिमी सीमा क्रमशः मध्य प्रदेश तथा गुजरात से संयुक्त है।

राजस्थान का क्षेत्रीय विस्तार 3,42,239 वर्ग किलोमीटर में है जो भारत के कुल क्षेत्र का 10.43 प्रतिशत है। अतः क्षेत्रफल की दृष्टि से यह भारत का सबसे बड़ा राज्य है। क्षेत्रफल की दृष्टि से यह विश्व के अनेक देशों से बड़ा है, उदाहरण के लिये इजराइल से 17 गुना, श्रीलंका से पांच गुना, इंग्लैण्ड से दुगना तथा नार्वे, पोलैण्ड, इटली से भी अधिक विस्तार रखता है। राजस्थान की आकृति विषम कोण चतुर्भुज के समान है। राज्य की उत्तर से दक्षिण लम्बाई 826 किलोमीटर तथा पूर्व से पश्चिम चैड़ाई 869 किलोमीटर है।

प्रशासनिक इकाईयाँ
          स्वतत्रंता के पश्चात् 1956 में राजस्थान राज्य के गठन के प्रक्रिया पूर्ण हुई। वर्तमान में राज्य को प्रशासनिक दृष्टि से सात संभागों, 33 जिलों और 241 तहसीलों में विभक्त किया गया है।

राज्य के संभाग एवं उनमें सम्मलित जिलें निम्न प्रकार से है-
1. जयपुर संभाग - जयपुर, दौसा, सीकर, अलवर एवं झुन्झुँनू जिले।
2. जोधपुर संभाग - जोधपुर, जालौर, पाली, बाड़मेर, सिरोही एवं जैसलमेर जिले।
3. भरतपुर संभाग - भरतपुर, धौलपुर, करौली एवं सवाई माधोपुर जिले।
4. अजमेर संभाग - अजमेर, भीलवाड़ा, टोंक एवं नागौर जिले।
5. कोटा संभाग - कोटा, बूंदी, बारां एवं झालावाड़ जिले।
6. बीकानेर संभाग - बीकानेर,, गंगानगर, हनुमानगढ़ एवं चूरू जिले।
7. उदयपुर संभाग - उदयपरु , राजसमंद, डगूं रपुर, बाँसवाड़ा, चित्तौड़गढ़ एवं प्रतापगढ़ जिले।

No comments:

Post a Comment